लोकदल एक है, जनता तय करेगी इनेलो का भविष्य: दिग्विजय

चंडीगढ़: इनेलो से निष्कासित होने के बाद दिग्विजय चौटाला ने कहा कि ये फैसला हैरान करने वाला था। ये परेशानी के साथ चिंता की भी बात है कि जिस पार्टी को हमने मां समान मानकर काम किया। उस पार्टी से हमें ऐसे निकाल दिया गया जैसे हम पार्टी के कभी थे ही नहीं। इनेलो के एक बड़े नेता ने ये कहा था कि इनेलो एक पेड़ की तरह है। जिसकी नई पत्तियां आती रहती हैं और पुरानी पत्तियां गिरती रहती हैं, पार्टी को कोई फर्क नहीं पड़ता। इस पर दिग्विजय ने कहा कि ऐसे लोग अपनी बात कर रहे होंगे।
Haryana News haryana news in hindi popular
दिग्विजय ने साफ कहा कि इनेलो को किसी की जागीर नहीं बनने दिया जाएगा। किसी को पार्टी से अलग नहीं किया गया है। ये अजय चौटाला ने साफ कर दिया है। अलग करने वाली अटेंशन को हम कभी कामयाब नहीं होने देंगे।
पार्टी से निष्कासन के फैसले पर दिग्विजय ने कहा कि मेरे पिता को जब सजा हुई तब हम ने ये कहा था कि हमारे साथ अन्याय हुआ है, मैं बहुत हैरान हुआ। दिवाली पर कुछ लोगों ने हमें ये तोहफा देने का प्रयास किया लेकिन अजय चौटाला ने ये साफ कहा कि मैं किसी भी कार्यकर्ता की दिवाली खराब नहीं होने दूंगा।
विधायक नरेंद्र भड़ाना काफी समय से बीजेपी के कार्यक्रमों में सक्रीय नजर आ रहे हैं। इस पर दिग्विजय ने कहा कि हैरानी की बात है कि कोई व्यक्ति मनोहर लाल खट्टर के साथ स्टेज सांझा करें, ये सवाल उनसे पूछना चाहिए जो चंडीगढ़ के एसी वाले दफ्तरों में बैठकर पार्टी के मालिक होने की बात करते हैं। इस दौरान उन्होंने नई पार्टी की घोषणा की खबरों पर विराम लगाया और कहा कि लोकदल एक है। जनता तय करेगी कि इनेलो का भविष्य क्या है।