16 साल बाद कंडेला गांव में चौटाला परिवार की एंट्री, दुष्यंत के बाद अब पहुंचे अभय लेकिन भाषण सुनने नही आये लोग

जींद: एक हफ्ते पहले ही जब दुष्यंत चौटाला कंडेला गांव पहुंचे तो कंडेला गांव के ऐतिहासिक चबूतरे पर 16 साल के बैन के बाद चौटाला परिवार की दोबारा एंट्री हो गई थी। वहीं अब कंडेला गांव पहुंचे इनेलो नेता अभय चौटाला के कार्यक्रम से भीड़ नदारद रही।
बता दें कि कंडेला खाप ने अपना फरमान वापस लेते हुए चौटाला परिवार की तीसरी पीढ़ी के नेता दुष्‍यंत चौटाला को चबूतरे पर एंट्री दी थी। वहीं अब इनेलो नेता अभय चौटाला उपचुनाव में प्रचार के लिए कई गांवों का दौरा करने के दौरान कंडेला गांव पहुंचे लेकिन ग्रामीणों ने अभय चौटाला के भाषण में कोई रुचि नहीं दिखाई और कुछ लोग ही अभय को सुनने के लिए पहुंचे।
haryana election Haryana News haryana news in hindi Haryana news live popular
गौरतलब है कि करीब 16 साल पहले 2002 में आंदोलन कर रहे किसानों पर फायरिंग के बाद कंडेला खाप ने इस चबूतरे पर चौटाला परिवार की एंट्री बंद कर दी थी। किसान बिजली बिल सहित विभिन्‍न मुद्दों पर आंदोलन कर रहे थे और उन्‍होंने इस दौरान अधिकारियों को बंधक बना लिया था। जहां पुलिस और ग्रामीणों की झड़प में 9 किसानों की मौत हो गई थी। उस समय ओमप्रकाश चौटाला हरियाणा के मुख्यमंत्री थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *