नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी ख़तरे में, अभय चौटाला का पद अब जींद उपचुनाव, जेजेपी और कांग्रेस पर निर्भर

चंडीगढ़: इंडियन नेशनल लोक दल के नेता अभय चौटाला की नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी को अब खतरा हो गया है, यह सवाल खड़े होने लाजमी हैं क्योंकि मुख्य विपक्षी पार्टी इनेलो और दूसरी विपक्षी पार्टी कांग्रेस के पास अब विधायकों की संख्या एक बराबर यानी 17 रह गई है।
साल 2014 में हुए विधानसभा चुनावों के बाद भाजपा ने प्रदेश में सरकार बनाई थी और इनेलो ने 19 विधायक के साथ दूसरे नम्बर पर रहते हुए नेता विपक्ष की कुर्सी अपने नाम की थी तो वही कांग्रेस के 15 विधायक ही विधानसभा पहुच सके थे। बाद में कुलदीप बिश्नोई के कांग्रेस में आने से कांग्रेस की संख्या 17 हो गई है।
Haryana Live news Haryana News haryana news in hindi Haryana news live haryana samachar popular
लेकिन पिछले दिनों जींद सीट से विधायक हरिचंद मिड्ढ़ा और अब पिहोवा सीट से विधायक जसविंदर सिंह संधू का भी बीमारी के चलते शनिवार को निधन हो गया। पार्टी को हुई इस हानी से अब इनेलो के विधायको की संख्या 17 रह गई है।
HSSC Group D Result
अब यह कांग्रेस पर निर्भर करता है कि वह नेता प्रतिपक्ष के लिए दावा करते हैं या नहीं। अगर ऐसा होता है और सदन में वोटिंग होती है तो अभय चौटाला को नेता प्रतिपक्ष के पद से हाथ धोना पड़ सकता है। यहां बता दें इनलो के 3 विधायक जननायक जनता पार्टी से जुड़ चुके हैं। ऐसे में अगर क्रॉस वोटिंग होती है तो नेता प्रतिपक्ष का बदलाव लगभग तय है।
यहां आपको यह भी बता दे अगर इनेलो जींद उपचुनाव जीत जाती है तो अभय चौटाला का पद बच सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *