Surajkund Mela 2019: सूरजकुंड मेला, अपने लिए वक्त निकालने की है सबसे बेहतर जगह

फरीदाबाद: राजधानी दिल्ली से सटे सूरजकुंड में हर साल की तरह इस बार भी अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड हस्तशिल्प मेला पर्यटकों को खूब लुभा रहा है। 1 फरवरी से शुरू हुए 33 वें सूरजकुंड मेले में देश-विदेश के सैकड़ों कलाकार अपनी कला के मनमोहक प्रदर्शन से मेले में आए लोगों का मनोरंजन कर रहे हैं।
गौरतलब है कि इस बार का थीम स्टेट महाराष्ट्र है। यही वजह है कि महाराष्ट्र के सांस्कृतिक कलाकारों द्वारा मेला परिसर में जगह-जगह पालकी डांस का प्रदर्शन किया जा रहा है, जिसका सैलानी भी बाकायदा लुत्फ उठा रहे हैं।
आपको बता दें कि यह पालकी डांस होली के मौके पर महाराष्ट्र के कोनकणी में कुनबी जमात द्वारा आयोजित किया जाता है, जिसमें 15 से 20 कलाकार करीब 90 किलो की पालकी को उठाकर ढोल-नगाड़ों और शहनाई के साथ नृत्य करते हैं।
Haryana Live news Haryana news live popular अपना जिला चुनें फतेहाबाद
हरियाणा के बंचारी का नगाड़ा सूरजकुंड हस्तशिल्प मेले में हर किसी को नाचने-गाने और कूदने के लिए मजबूर कर रहा है। साथ ही मेले में मौजूद एक से एक हुनरमंद शिल्पकारों के साथ बच्चे से लेकर जवान और जवान से लेकर बड़े-बुजुर्ग फोटो खिंचवा रहे हैं। मेले में मौजूद सभी लोगों के हाथों में मोबाइल फोन हैं, और ऐसे में जमकर सेल्फियां ली जा रही हैं। चारों तरफ लोगों के हंसी-मजाक से माहौल पूरी तरह से मजेदार हो गया है। अगर आप भी अपने और परिवार के लिए अच्छा सकून भरा समय चाह रहे हैं तो सूरजकुंड मेला सबसे बेहतर जगह है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *